मेरे बड़े --

Thursday, March 26, 2015

देवी प्रवचन

वो मुझमे है, तुझमें है ,तू खोज न  इधर उधर

सिर झुकाकर मिला नज़र, तेरा जीवन जाए गुज़र.......

1 comment:

बस! आपका आशीष बना रहे ...